Wednesday, October 21, 2020

Sorry Shayari In Hindi - माफ कर दो शायरी, Mafi Shayari, Sorry Status


जब हम किसी से प्यार करते हैं उससे किसी न किसी बात पर झगड़ा कर लेते हैं या फिर हम ऐसा काम कर लेते हैं जिससे हम जिसे चाहते हैं उसके दिल को बहुत ठेस पहुँचती है। यदि आपसे भी कोई नाराज़ हो गया है या गयी है और गलती आपकी है और आपको गलती का अहसास हो गया है तो आप उसके साथ हमारी माफ कर दो शायरी या Sorry Shayari In Hindi शेयर कर सकते हैं और उससे माफ़ी मांग सकते हैं।

Sorry Shayari In Hindi
Sorry Shayari In Hindi
कोई भी इंसान perfect नहीं होता है उससे हमेशा कुछ न कुछ गलती हो ही जाती है और गलती में कभी ऐसा काम हो जाता या ऐसी बात बोल देते जिससे सामने वाले के दिल को बहुत बुरा लगता है और वह हमसे नाराज़ हो जाता है यदि आप अपनों को खोना नहीं चाहते है तो रूठे दोस्त को मनाना शायरी, मुझे माफ कर देना शायरी शेयर कर सकते हैं और उससे माफ़ी मांग सकते हैं।

Sorry Shayari, Sorry Shayari For Gf 2 Lines, Sorry Shayari For Boyfriend, Sorry Shayari In Hindi For Friends

यह दुनिया बहुत बड़ी है मेरे दोस्त कब कोण नाराज़ हो जाये पता ही नहीं चलता है नाराज़ होने वाला कोई भी हो सकता हैं आपकी गर्लफ्रेंड, बॉयफ्रेंड, दोस्त, रिश्तेदार या फिर आपके टीचर कोई भी हो सकता है यदि आपको इनसे माफ़ी मगनी है तो आप इनके साथ हमारी sorry shayari in hindi for friends, sorry shayari for gf 2 lines, sorry shayari for boyfriend, funny sorry shayari, sorry shayari in hindi for teachers, sorry shayari for wife, sorry shayari for husband, मुझे माफ कर दो शायरी, गलती का एहसास शायरी, सॉरी बोलने के लिए शायरी, रूठे यार को मनाने की शायरी, सॉरी शायरी फॉर लव, मुझे माफ कर देना शायरी, आदि शायरी शेयर कर सकते हैं।

हम ऐसी दुआ करते हैं की जिससे आप माफ़ी मांग रहे हैं वह आपको माफ़ कर दे और आपकी लाइफ में दुबारा लौट कर आ जाये।

 

*तुम हँसते हो*

*तुम हँसते हो* मुझे हँसाने के लिए,

तुम रोते हो तो मुझे रुलाने के लिए,

तुम एक बार रूठ कर तो देखो,

मर जायेंगे तुम्हें मनाने के लिए।

 

*मैंने खुद से*

आज *मैंने खुद से* एक वादा किया है,

माफ़ी मांगूंगा तुझसे तुझे रुसवा किया है,

हर मोड़ पर रहूँगा मैं तेरे साथ साथ,

अनजाने में मैंने तुझको बहुत दर्द दिया है।

 

*दिल में समा गए*

धड़कन बनके जो *दिल में समा गए* हैं,

हर एक पल उनकी याद में बिताते हैं,

आंसू निकल आये जब वो याद आ गए,

जान निकल जाती है जब वो रूठ जाते हैं।

 

*खफा हो गए*

तुम *खफा हो गए* तो कोई ख़ुशी न रहेगी,

तुम्हारे बिना चिरागों में रौशनी न रहेगी,

क्या कहें क्या गुजरेगी दिल पर ऐ दोस्त,

जिंदा तो रहेंगे लेकिन ज़िंदगी न रहेगी।

 

*दर्द गैरों को सुनाने*

*दर्द गैरों को सुनाने* की ज़रूरत क्या है,

अपने साथ औरों को रुलाने की ज़रूरत क्या है,

वक्त यूँही कम है मोहब्बत के लिए,

रूठकर वक्त गंवाने की ज़रूरत क्या है।

 

*खता हो गयी*

*खता हो गयी* तो फिर सज़ा सुना दो,

दिल में इतना दर्द क्यूँ है वजह बता दो,

देर हो गयी याद करने में जरूर,

लेकिन तुमको भुला देंगे ये ख्याल मिटा दो।

 

*याद को जुदा तो नहीं*

दिल से तेरी *याद को जुदा तो नहीं* किया,

रखा जो तुझे याद कुछ बुरा तो नहीं किया,

हम से तू नाराज़ हैं किस लिये बता जरा,

हमने कभी तुझे खफा तो नहीं किया।

 

*तुम खफा हो गए*

*तुम खफा हो गए* तो कोई ख़ुशी न रहेगी,

तुम्हारे बिना चिरागों में रोशनी न रहेगी,

क्या कहे क्या गुजरेगी इस दिल पर,

जिंदा तो रहेंगे पर ज़िन्दगी न रहेगी।

 

*हम रूठे भी तो*

*हम रूठे भी तो* किसके भरोसे रूठें,

कौन है जो आयेगा हमें मनाने के लिए,

हो सकता है तरस आ भी जाये आपको,

पर दिल कहाँ से लायें आपसे रूठ जाने के लिये।

 

*नाराज क्यूँ होते हो*

*नाराज क्यूँ होते हो* किस बात पे हो रूठे,

अच्छा चलो ये माना तुम सच्चे हम ही झूठे,

कब तक छुपाओगे तुम हमसे हो प्यार करते,

गुस्से का है बहाना दिल में हो हम पे मरते।

 

*हमने आपको कभी*

हो सकता है *हमने आपको कभी* रुला दिया,

आपने तो दुनिया के कहने पे हमें भुला दिया,

हम तो वैसे भी अकेले थे इस दुनिया में,

क्या हुआ अगर आपने एहसास दिला दिया।

 

*कोई खता हो जाये तो माफ़*

हमसे *कोई खता हो जाये तो माफ़* करना,

हम याद न कर पाएं तो माफ़ करना,

दिल से तो हम आपको कभी भूलते नहीं,

पर ये दिल ही रुक जाये तो माफ़ करना।

 

*बहुत उदास है कोई शख्स*

*बहुत उदास है कोई शख्स* तेरे जाने से,

हो सके तो लौट के आजा किसी बहाने से,

तू लाख खफा हो पर एक बार तो देख ले,

कोई बिखर गया है तेरे रूठ जाने से।

 

*रिश्तों में दूरियां तो*

*रिश्तों में दूरियां तो* आती-जाती रहती हैं,

फिर भी दोस्ती दिलो को मिला देती है,

वो दोस्ती ही क्या जिसमे नाराजगी न हो,

पर सच्ची दोस्ती दोस्तों को मना ही लेती है।

 

*सॉरी कहने का मतलब*

*सॉरी कहने का मतलब* है,

कि आपके लिए दिल में प्यार है,

अब जल्दी से हमे माफ़ कर दो ऐ सनम,

सुना है आप बहुत समझदार हैं।

 

*कहा सुना जो भी हो माफ़*

*कहा सुना जो भी हो माफ़* करना

कुछ वादे किये ना निभाए हों तो माफ़ करना

कुछ बातें जो हम दोनों के बिच हवी

उन में कुछ भला बुरा हुवा हो तो माफ़ करना

 

*खता हो गई हो तो*

*खता हो गई हो तो* सजा भी सुना दो

दिल में इतना दर्द क्यू है वजह भी बता दो

देर हो गई याद करने में ज़रूर लेकिन

तुमको भुला देंगे ये ख्याल दिल से निकाल दो

 

*दर्द किया होता है*

*दर्द किया होता है* बतायेंगे एक रोज़

प्यार की गजल सुनायेंगे किसी रोज़

थी उनकी जिद की में जाऊ उनको मानाने

मुजको ये वेहम था वो बुलायेंगे किसी रोज़

 

*वो शख्स जिसे तूने छोड़ने*

*वो शख्स जिसे तूने छोड़ने* की जल्दी की

तेरे मिज़ाज के सोंच में ढाल भी सकता था

वो जल्दबाजी में खफा हो के चल दिया वरना

नतीजे का कोई हल निकल भी सकता था

तमाम उम्र तेरा मुताज़िर रहा मोहसिन

ये और बात थी के वो रास्ता बदल भी सकता था

 

*उससे ज़रूर माफ़ी मांगो*

*उससे ज़रूर माफ़ी मांगो* जिससे तुम चाहते हो

उसे मत छोड़ो जो तुम्हें चाहता है

उस से कुछ न छुपाओ जो तुम पे ऐतबार करे

 

*होंटों से दुआ के लिए*

*होंटों से दुआ के लिए* जसने नहीं होती

अब इससे जायदा तेरी खुवासिश नहीं होती

है प्यार का सहेर यहाँ बदल नहीं आती

अगर बदल भी आ जाये तो बारिश नहीं होती

 

*मेरे खुवाबों में वो तीर चला*

*मेरे खुवाबों में वो तीर चला* कर काली गई

में सोया थ मुझ को जगह कर चली गई

मैंने पूछा चाँद कैसे निकलता है

वो अपने चहेरे से जुल्फें हटा कर चली गई

 

*हम भी लिखदे तेरी मसोमियत*

सुंचते है *हम भी लिखदे तेरी मसोमियत* को इन किताबन में सनम

पर दर लगता है कोई तुझे पाने की कोशिश ना करे

 

*ये मतलब नहीं होता*

माफ़ी मांगने का *ये मतलब नहीं होता* के हम गलत और सही है

बलके असल मतलब ये है

के हम रिश्ता निभाने की सलायियत इस से जायदा है

 

*आबाद रहेगी ये दुनिया*

*आबाद रहेगी ये दुनिया* हमारे बाद भी

हम नहीं होंगे तो कोई और हम सा होगा

 

*बस एक माफ़ी*

*बस एक माफ़ी* तौबा कभी जो इससे सताए तुम को

लो हाथ जुड़े लो कान पकडे अब और कैसे मनाये तुमको

तुम्हारे आते ही इस नगर से हमें तानाफत सी हो गई

में शरारत भी कैसे सह लो के छोड़ रही है हवाएँ भी तुमको

 

 

Conclusion

यदि आपकी वजह से किसी का दिल दुखा है या आपकी वजह से किसी के साथ बुरा हुआ है और आपकी गलती का अहसास हो गया है आप उससे माफ़ी मांग लीजिये मेरे दोस्त और उसे साथ Sorry Shayari In Hindi शेयर कर सकते हैं।

अगर आपको हमारी माफ कर दो शायरी, Mafi Shayari, Sorry Status पसंद आये हैं आप इन्हें अपनों दोस्तों के साथ जरुर शेयर करें।

No comments:
Write comment