Wednesday, October 21, 2020

Aansoo Shayari in Hindi - Ashq Shayari and Aansoo Status


आजकल की इस दुनिया में कब किसी रुला दे पता ही नहीं चलता कब कोई किसी को छोड़ दे पता ही नहीं चलता है। आदमी तनहा अकेला हो जाता है उसे पता ही नहीं रहते की वह करे तो क्या करे उसको रोने के अलावा कुछ नहीं सूझता है। यदि आप भी किसी के खोने से परेसान हैं तो आपके लिए हम Aansoo Shayari in Hindi लेकर आये हैं जो आपके आँसू को कम करने में मदद करेगी।

Aansoo Shayari in Hindi
Aansoo Shayari in Hindi
मेरे हिसाब से आजकल किसी के आँखों से निकले Ashq की कीमत बहुत कम हो गयी है कोई भी कभी भी किसी को रुला कर अकेला तनहा छोड़ कर चला जाता है।

Tears Shayari In Hindi, Ashq Shayari Hindi Me, Aansoo Status in Hindi

आँखों के आँसू पर किसी कर बस नहीं चलता है यह जब कोई हमें बहुत ज्यादा दुखी करता है तो उसके लिए आँसू आ ही जाते हैं जब कोई लड़का या लड़की किसी को कजोड कर या रिश्ता तोड़कर चला जाता है तो Tears Shayari In Hindi आ ही जाते हैं।

यहाँ हम आपको नीचे कुछ दर्द भरी Tears Shayari In Hindi, Ashq Shayari Hindi Me, Aansoo Status in Hindi शेयर कर रहे हैं जिन्हें आप अपने चाहने वाले के साथ शेयर शेयर कर सकते हैं।

Aansoo Shayari in Hindi

*समंदर में उतरता हूँ* तो आँखें भीग जाती हैं,

तेरी आँखों को पढ़ता हूँ, तो आँखें भीग जाती हैं,

तुम्हारा नाम लिखने की ,इजाज़त छिन गई जबसे,

कोई भी लफ्ज़ लिखता हूँ, तो आँखें भीग जाती हैं।

 

*छलक आये तुम्हारी आँख*

अभी से क्यों *छलक आये तुम्हारी आँख* में आँसू,

अभी छेड़ी कहाँ है दास्तान-ए-ज़िंदगी मैंने।

 

*जब लफ्ज़ थक*

*जब लफ्ज़ थक* गए तो फिर आँखों ने बात की,

जो आँखें भी थक गयीं तो अश्कों से बात हुई।

 

Ashq Shayari and Aansoo Status

फिर आज *आँसुओं में नहाई हुई* है रात,

शायद हमारी तरह ही सताई हुई है रात।

 

*कौन सा आँसू मेरा राज़*

न जाने *कौन सा आँसू मेरा राज़* खोल दे,

हम इस ख़्याल से नज़रें झुकाए बैठे हैं।

 

*पानी की एक बूँद*

वहाँ से *पानी की एक बूँद* भी न निकली,

तमाम उम्र जिन आँखों को झील लिखते रहे।

 

Aansoo Shayari in Hindi

पिरो दिये *मेरे आँसू हवा* ने शाखों में,

भरम बहार का वाकी रहा आँखों में।

 

*अश्क से आँखों*

आज *अश्क से आँखों* में क्यों हैं आये हुए,

गुजर गया है ज़माना तुझे भुलाये हुए।

 

*तू इश्क की दूसरी निशानी*

*तू इश्क की दूसरी निशानी* दे दे मुझको,

आँसू तो रोज गिर कर सूख जाते हैं।

 

*कभी प्यासा फिर मेरी*

शायद तू *कभी प्यासा फिर मेरी* तरफ लौट आये,

आँखों में लिए फिरता हूँ दरिया तेरी खातिर।

 

*आँसू जब तुम्हारी याद*

टपक पड़ते हैं *आँसू जब तुम्हारी याद* आती है,

ये वो बरसात है जिसका कोई मौसम नहीं होता।

 

Tears Shayari In Hindi

*कभी बरसात का मज़ा* चाहो,

तो इन आँखों में आ बैठो,

वो बरसों में कभी बरसती है,

ये बरसों से बरसती हैं।

 

*आँखों के ये भीगे*

आ देख मेरी *आँखों के ये भीगे* हुए मौसम,

ये किसने कह दिया कि तुम्हें भूल गये हम।

 

*आखिर इन आँसूओ पे*

ना जाने *आखिर इन आँसूओ पे* क्या गुजरी,

जो दिल से आँख तक आये मगर बह ना सके।

 

Aansoo Shayari in Hindi

*दो चार आँसू ही* आते हैं पलकों के किनारे पे,

वर्ना आँखों का समंदर गहरा बहुत है।

 

*मेरी चश्म-ए-तर*

वो अश्क बन के *मेरी चश्म-ए-तर* में रहता है,

अजीब शख़्स है पानी के घर में रहता है।

 

*खयाल कि आँखें*

आया ही था *खयाल कि आँखें* छलक पड़ीं,

आँसू किसी की याद के कितने करीब हैं।

 

Ashq Shayari and Aansoo Status

तेरी *मुस्कराहट तेरे कहकहे* किसी और के थे,

जो तेरी आँखों से था टपका वो मैं था।

 

*आई मेरी आँखे जब उसका नाम*

भर *आई मेरी आँखे जब उसका नाम* आया,

इश्क़ नाकाम सही फिर भी बहुत काम आया,

हमने मोहब्बत में ऐसी भी गुज़ारी कई रातें,

जब तक आँसू ना बहे दिल को आराम न आया।

 

*आगोश-ए-सितम*

*आगोश-ए-सितम* में छुपाले कोई,

तन्हा हूँ तड़पने से बचा ले कोई,

सूखी है बड़ी देर से पलकों की जुबां,

बस आज तो जी भर के रुला दे कोई

 

*सदियों बाद उस अजनबी*

*सदियों बाद उस अजनबी* से मुलाक़ात हुई,

आँखों ही आँखों में चाहत की हर बात हुई,

जाते हुए उसने देखा मुझे चाहत भरी निगाहों से,

मेरी भी आँखों से आंसुओं की बरसात हुई।

 

Aansoo Shayari in Hindi

*पलकों के बंध तोड़* के दामन पे गिर गया,

एक अश्क मेरे ज़ब्त की तौहीन कर गया।

 

*इत्तिफ़ाक़ समझो या मेरे दर्द*

*इत्तिफ़ाक़ समझो या मेरे दर्द* की हकीक़त,

आँख जब भी नम हुई वजह तुम ही निकले।

 

Tears Shayari In Hindi

*प्यार कर के कोई* जताए ये ज़रूरी तो नहीं,

याद कर के कोई बताये ये ज़रूरी तो नहीं,

रोने वाले तो दिल में ही रो लेते हैं अपने,

कभी आँख में आसूं आये ये ज़रूरी तो नहीं।

 

*दीदा-ए-तर*

क्या कहूँ *दीदा-ए-तर* ये तो मेरा चेहरा है,

संग कट जाते हैं बारिश की जहाँ धार गिरे।

 

*आंसुओं में वज़न नहीं होता*

कौन कहता है कि *आंसुओं में वज़न नहीं होता*,

एक भी छलक जाए तो मन हल्का हो जाता है।

 

*मेरे दिल में न आओ*

*मेरे दिल में न आओ* वर्ना डूब जाओगे,

गम के आँसू का समंदर है मेरे अन्दर।

 

*जब्त-ए-गम*

*जब्त-ए-गम* कोई आसान काम नहीं फराज,

आग होते है वो आँसू जो पिए जाते हैं।

 

*आँखों में आँसू*

मेरी *आँखों में आँसू* नहीं बस कुछ नमी है,

वजह तू नहीं बस तेरी ये कमी है।

 

Aansoo Shayari in Hindi

जिस तरह *हँस रहा हूँ मैं* पी पी के गर्म अश्क.

यूँ दूसरा हँसे तो कलेजा निकल पड़े।

 

*अश्क़ ही मेरे दिन*

*अश्क़ ही मेरे दिन* हैं अश्क़ ही मेरी रातें,

अश्कों में ही घुली हैं वो बीती हुयी बातें।

Conclusion

मैं तो यही दुआ करता हूँ की कोई किसी को नहीं दुखी कर कोई किसी की आँखों में आँसू लेकर न आये। आपको हमारी Aansoo Shayari in Hindi कैसी लगी आप हमें बता सकते हैं आप इन्हें अपनों के साथ जरुर शेयर करें।

किसी की आंखों से अश्क गिराना तो बुरी बात है आप हमेशा कोशिश करें की आपकी वजह से किसी आँखों में आँसू ना आयें आप Ashq Shayari and Aansoo Status पर जरुर लगायें।

No comments:
Write comment