Thursday, October 22, 2020

Nazar Shayari In Hindi - Aankhon Par Shayari in Hindi


पहले नज़र की बात ही कुछ और है यह प्यार ऐसा होता है की एक नज़र मिली और आप पास गये मोहब्बत में और अपना दिल आप दिल दे बैठते हैं। दोस्तों यदि आप भी ऐसे ही प्यार में अड़े हैं तो आपके लिए यहाँ हम Nazar Shayari In Hindi लेकर आये हैं जिन्हें आप अपने कातिल नज़र वाले सनम के साथ शेयर कर सकते हैं।

Nazar Shayari In Hindi
Nazar Shayari In Hindi
किसी की नज़र ही ऐसी कातिल होती हैं की बस आपसे एक बार मिली नहीं और आप पद गये मुहब्बत में और दे बैठे अपना दिल कातिल नज़रो को ऐसी ही नज़र के लिए हम आपके लिए Katil Nazar Shayari In hindi, Aankhon Par Shayari in Hindi लेकर आये हैं जिन्हें आप अपनी महबूबा के साथ शेयर कर सकते हैं।

Romantic Shayari On Nazar, Nazar Andaz Shayari, Jhuki Nazar Shayari, Nazar Shayari 2 Line

यदि आपने अपने महबूब को पहली बार देखा होगा तो जब आपकी नज़र आपकी प्रेमी या प्रेमिका के साथ मिली थी तो उसने अपनी नज़र आपसे मिला कर अचानक से अपनी नज़र झुका ली थी और आपको अंदाज़ कर दिया होगा यदि आपके साथ भी ऐसा हुआ है तो आपके लिए Romantic Shayari On Nazar, Nazar Andaz Shayari , Jhuki Nazar Shayari, Nazar Shayari 2 Line शेयर कर रहे हैं जिन्हें आप अपने प्रेमी आपके दोस्त आपकी गर्लफ्रेंड के साथ उनके facebook और whatsapp पर शेयर सकते हैं।

आपने कई बार देखा होगा की किसी लड़की की आँखें एक अलग ही जादू कर जाती हैं जब आप उन्हें देखते वोह आपको देखती है आप सीधे ही प्यार में पद जाते हैं यह सब आँखों ही आँखों में होता है और आपको प्यार हो जाता है आप चाहकर भी इससे बच नहीं सकते हैं।

Nazar Shayari In Hindi

*आँख से दूर* सही दिल से कहाँ जाएगा

जाने वाले तो हमें याद बहुत आएगा

 

*जमाने वाले*

मैकदे बंद करें लाख *जमाने वाले*

शहर मैं कम नहीं आँखों से पिलाने वाले

 

Aankhon Par Shayari in Hindi

हज़ार बार मरना चाहा *निगाहों* मैं डूब कर हमने फ़राज़

वो निगाहें झुका लेते हैं हमें मरने नहीं देते

 

*आँख*

उसकी *आँखें* सवाल करती हैं

मेरी हिम्मत जवाब देती है

 

*आँसू*

बहुत अंदर तक तबाही मचाता है

वो *आँसू* जो आँखों से बेह नहीं पता है

 

Romantic Shayari On Nazar

रातों की *गहराई आँखों से* उतर आई

कुछ खवाब थे और कुछ मेरी तनहाई

ये जो पलकों से बह रहे हैं हल्के -हल्के

कुछ तो मजबूरी थी कुछ मेरी बेवफ़ाई

 

*दुआ*

आपकी आँखें उठी तो *दुआ* बन गई

आपकी आँखें झुकी तो अदा बन गई

झुक कर उठी तो हया बन गई

उठ कर झुकी तो सदा बन गई

 

Nazar Shayari In Hindi

हम भटके हुए *एक राही* थे दुनिया की अंधेरी राहों मैं

जीने की तमन्ना जाग उठी देखा जो तुम्हारी आँखों मैं

जीने का सहारा देके हमें अब दूर हमी से जाते हो

इज़हारे वफा करते -करते क्या बात है क्यों रूक जाते हो

 

Nazar Shayari 2 Line

सुना है तेरी *आँखों मैं सितारे* जगमगाते हैं

इजाज़त हो तो मैं भी अपने दिल मै रोशनी कर लों

 

Aankhon Par Shayari in Hindi

वो आंखो मैं *काजल* वो बालों मैं गजरा

हथेली पे उसके हीना महकी-महकी

ये कौन आ गयी दिलरुबा महकी-महकी

फ़िजा महकी -महकी हवा महकी-महकी

 

*जुगनू*

अपनी आँखों मैं छुपा रखे हैं *जुगनू* मैंने

अपनी पलकों मैं सजा रखे हैं आँसू मैंने

मेरी आँखों को भी बरसात का मौक़ा दे दे

सिर्फ एक बार मुलाक़ात का मौक़ा दे दे

 

*कलियाँ*

तेरी आँखों से *कलियाँ* खिलें

तेरे आँचल से बादल उड़े

देख ले जो तेरी चाल को

मोर भी नाचना छोड़ दे

 

Romantic Shayari On Nazar

*वक़्त* के हाथ में डोर है

अक्ल इन्सा की कमज़ोर है

जो है क़िस्मत में होगा वही

जानेमन सोचना छोड़ दे

 

*मयख्वार ए साकिया*

तेरी आँखों से छलकी हुई

जो भी एक बार पी ले अगर

फिर वो *मयख्वार ए साकिया*

जाम ही मांगना छोड़

 

Nazar Shayari In Hindi

उसने *आँखों से आँखें* जब मिला दी

ज़िंदगी झूम कर मुस्कुरा दी

ज़ुबान से तो हम कुछ न कह सके

पर आँखों ने दिल की कहानी सुना दी

 

*सागर से गहरी*

*सागर से गहरी* हैं आपकी आँखें

दिल की खुशी है आपकी आँखें

प्यार का जाम हैं आपकी आँखें

छुपाए कई राज़ हैं आपकी आँखें

ले लेंगी मेरी जान आपकी आँखें

 

Aankhon Par Shayari in Hindi

देखा है *मेरी नजरों* ने

एक रंग छलकते पैमाने का,

यूँ खुलती है आंख किसी की

जैसे खुले दर मैखाने का।

 

*एहमियत*

इकरार में शब्दों की *एहमियत* नहीं होती,

दिल के जज़्बात की आवाज़ नहीं होती,

आँखें बयान कर देती है दिल की दास्तान,

मोहब्बत लफ्जों की मोहताज नहीं होती।

 

*हया*

आँखें नीची हैं तो *हया* बन गई,

आँखें ऊँची हैं तो दुआ बन गई,

आँखें उठ कर झुकी तो अड़ा बन गई,

आँखें झुक कर उठी तो कदा बन गई।

 

Romantic Shayari On Nazar

हम भटकते रहे थे *अनजान राहों* में,

रात दिन काट रहे थे यूँ ही बस आहों में,

अब तमन्ना हुई है फिर से जीने की हमें,

कुछ तो बात है सनम तेरी इन निगाहों में।

 

*दिल से दिल*

आँखों से आँखें मिला कर तो देखो,

हमारे *दिल से दिल* लगा कर तो देखो,

सारे जहान की खुशियाँ तेरे दामन में रख देंगे,

हमारे प्यार पर ज़रा ऐतबार करके तो देखो।

 

Nazar Shayari In Hindi

आँखों में हया हो तो

*पर्दा दिल का* ही काफी है,

नहीं तो नक़ाब से भी होते हैं,

इशारे मोहब्बत के।

 

*ख़ूबसूरत शाम*

कभी तो आसमाँ से चांद उतरे जाम हो जाये,

तुम्हारे नाम की इक *ख़ूबसूरत शाम* हो जाये,

हमारा दिल सवेरे का सुनहरा जाम हो जाये,

चराग़ों की तरह आँखें जलें जब शाम हो जाये।

 

Aankhon Par Shayari in Hindi

बहुत खूबसूरत हैं ये आँखें तुम्हारी,

इन्हें बना दो *किस्मत* हमारी,

हमें नहीं चाहिये ज़माने की खुशियाँ,

अगर मिल जाये मोहब्बत तुम्हारी।

 

*शराब सा नशा*

ना जाने कौन सा जादू है तेरी बाहों में,

*शराब सा नशा* है तेरी आँखों में,

तेरी तलाश में तेरे मिलने की आस लिए,

दुआऐं मांगता फिरता हूँ मैं दरगाहों में।

 

*नज़र से नज़र*

आपने *नज़र से नज़र* जब मिला दी,

हमारी ज़िन्दगी झूमकर मुस्कुरा दी,

जुबां से तो हम कुछ भी न कह सके,

पर आँखों ने दिल की कहानी सुना दी।

 

Nazar Andaz Shayari

*मदहोश आंखो* से वो जब हमें देखते हैं,

हम घबरा के अपनी पलके झुका लेते हैं,

कैसे मिलाए हम उन आँखों से आँखें,

सुना है वो आँखों से अपना बना लेते हैं।

 

*आईना*

जब से देखा है तेरी आँखों में झाँककर,

कोई भी *आईना* अच्छा नहीं लगता,

तेरे इश्क में ऐसे हुए हैं दीवाने हम,

कोई और देखे तुझे तो अच्छा नहीं लगता।

 

Nazar Shayari In Hindi

उठती नहीं है आँख किसी और की तरफ,

पाबन्द कर गयी है किसी की नजर मुझे,

ईमान की तो ये है कि ईमान अब कहाँ,

काफ़िर बना गई तेरी *काफ़िर-नज़र* मुझे।

 

*आलम*

उस घड़ी देखो उनका *आलम*

नींद से जब हों बोझल आँखें,

कौन मेरी नजर में समाये

देखी हैं मैंने तुम्हारी आँखें।

 

Aankhon Par Shayari in Hindi

तुम्हीं कहते थे कि यह मसले

नजर मिलने से सुलझेंगे,

नजर की बात है तो फिर

यह *लब* खामोश रहने दो।

 

*लफ़्ज़*

अगर कुछ सीखना ही है,

तो आँखों को पढ़ना सीख लो,

​वरना ​*लफ़्ज़ों* के मतलब तो,

​हजारों निकाल लेते है।

 

Nazar Andaz Shayari

महफिल अजीब है, ना ये *मंजर* अजीब है,

जो उसने चलाया वो खंजर अजीब है,

ना डूबने देता है, ना उबरने देता है,

उसकी आँखों का वो समंदर अजीब है।

 

*कयामत*

मेरी आँखों में झाँकने से पहले,

जरा सोच लीजिये ऐ हुजूर…

जो हमने पलके झुका ली तो *कयामत* होगी,

और हमने नजरें मिला ली तो मुहब्बत होगी।

 

Jhuki Nazar Shayari

तेरी *निगाह* से ऐसी शराब पी मैंने,

फिर न होश का दावा किया कभी मैंने,

वो और होंगे जिन्हें मौत आ गई होगी,

निगाह-ए-यार से पाई है जिन्दगी मैंने।

 

Nazar Shayari In Hindi

*नशीली आँखों* से वो जब हमें देखते हैं,

हम घबरा कर आँखें झुका लेते हैं,

कौन मिलाये उन आँखों से आँखें,

सुना है वो आँखों से अपना बना लेते हैं।

 

*उल्फ़त*

*उल्फ़त* में कभी यह हाल होता है,

आँखें हस्ती हैं मगर दिल रोता है,

मानते हैं हम जिसे मंज़िल अपनी,

हमसफ़र उसका कोई और होता है।

 

Aankhon Par Shayari in Hindi

तू नहीं तो *ज़िंदगी* में क्या रह जायेगा,

दूर तक तन्हाइयों का सिलसिला रह जायेगा,

आँखें ताज़ा मंज़रों में खो जायेंगी मगर,

दिल पुराने मौसमों को ढूंढ़ता रह जायेगा।

 

*समंदर*

*समंदर* मैं तुझसे वाकिफ हूँ

मगर इतना बताता हूँ,

वो ऑंखें तुझसे गहरी हैं

जिनका मैं आशिक हूँ।

 

*तरसती हैं ये आँखें*

सामने ना हो तो *तरसती हैं ये आँखें*,

बिन तेरे बहुत बरसती हैं ये आँखें,

मेरे लिए ना सही इनके लिए ही आ जाओ,

क्योंकि आपसे बेपनाह प्यार करती हैं ये आँखें।

 

Jhuki Nazar Shayari

हम उस से थोड़ी दूरी पर हमेशा रुक से जाते हैं,

न जाने उस से मिलने का *इरादा* कैसा लगता है,

मैं धीरे धीरे उनका दुश्मन-ए-जाँ बनता जाता हूँ,

वो आँखें कितनी क़ातिल हैं वो चेहरा कैसा लगता है।

 

*प्यार की दास्तां*

*प्यार की दास्तां* जब भी वक्त दोहरायेगा।

हमे भी एक शख्स बहुत याद आयेगा।

जब उसके साथ बिताये लम्हें याद आयेंगे।

आँखें नम हो जायेगी, दिल आंसू बहायेगा।

Conclusion

आप सभी जानते हैं की आजकल का प्यार कैसा हो गया है लेकिन यदि आपका प्यार भी नज़र मिली और प्यार हो गया तो आपके Nazar Shayari In Hindi आपको जरुर पसंद आई होंगी यदि आपको हमारी ऐसी कातिल नज़र शायरी, झुकी नज़र शायरी पसंद आई है आप इसे जरुर शेयर करें।

यदि आप भी किसी की नज़र पर फ़िदा हैं और चाहते हैं की आपके प्यार की नज़र ऐसे ही कातिल बनी रहे तो आप उसे Eyeliners Gift में दे सकते हैं।

No comments:
Write comment